घंटी और दर्पण के हैं गजब के फायदे, घर की इन जगहों पर लगाने से आती है बरकत…




हमारे जीवन में कुछ चीजों का प्रयोग हम प्रतिदिन करते हैं लेकिन इसके बावजूद हम उनके उपायों के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं. चलिए आज हम आपको बताते हैं दर्पण और घोड़े की नाल का महत्व.

दर्पण:
वास्तु शास्त्र में दर्पण बहुत उपयोगी माना जाता हगै. दिशाओं को बढ़ाने का भ्रम करने वाला ये दर्पण कई बार चौंकाने वाला प्रभाव दिखाता है. यदि घर के उत्तर पूर्व हिस्से का कोना कटा हुआ हो तो उस दिशा में एक बड़ा सा दर्पण लगाने से दिशा भ्रम हो जाता है. क्योंकि वह दिशा बढ़ती हुई प्रतीत होती है. जिससे की उसका वास्तु दोष खत्म हो जाता है.

इसके अलावा यदि घर के सामने कोई खंबा, पेड़, किसी मकान का कोना, कूड़, खंडहर हो तो घर के मुख्य द्वार की चौखट के ऊपर एक गोल शीशा लगा देने से घर में आने वाली निगेटिव एनर्जी दर्पण से टकराकर बाहर चली जाती है. ये लेख हिमाचली खबर से। इसके अलावा डाइनिंग रूम में उत्तर-पूरब की दीवार पर ओवल शेप का एक बड़ा शीशा लगा देना चाहिए, इससे वहां पर खाना खाने वाले लोगों को खाने प्रतिबिंब उसमें दिखाई देगा जिससे की घर में समृद्धि आती है.

घंटी:
घंटी का अधिकांश इस्तेमाल लोग मंदिरों और अपने घरों के मंदिर में करते हैं. घंटी वातावरण में पॉजिटिव एनर्जी भर देती है. जहां पर घंटी या घंटे की ध्वनि होती है वहां से नकारात्मक शक्तियां दूर चली जाती हैं. इसलिए हमें प्रात:काल उठकर स्नान करने के बाद अपने घर की घंटी को घर के मुख्य द्वार और मंदिर में जरूर बजाना चाहिए. घर के मुख्य द्वार में के सामने दो अथवा तीन द्वार एक सीध में हो तो एक पीतल की छोटी घंटी बीच के द्वार पर टांग दें. आपको निचे दी गयी ये खबरें भी बहुत ही पसंद आएँगी।

Comments

Popular posts from this blog

नामर्द पति के सामने ही कपडे उतार प्रेमी से संबंध बनाने लगी पत्नी, 9 साल तक..-*

व्हाट्सएप पर बड़े एक्शन की तैयारी में मोदी सरकार, कर सकती है..-*

BREAKING: देश में चौराहे पर सरेआम उतारी गई इज्जत, बोली लगाकर 2 करोड में बेची गई..-*